Best Kismat shayari in hindi

Kismat  shayari  इसमें आपको सारी किस्मत को शायरी है ।kismat सबकी अच्छी होती है। लेकिन kismat को लिखना खुद होता है। जिंदगी बहुत hard होती है। But life छोटी नही होती है।

यहां kismat का sath होना बहुत जरूरी होता है। Kismat shayari in hindi जिसमे आपको अपनी kismat से संबंधित shayari मिलेगी जो रिलेट करेगी। 

दुनियां में आए हो तो kismat का sath होना बहुत जरूरी है क्युकी safar ( shayari ) एक दिन का है नही और यहां किस्मत का साथ होना चाहिए। किसी की kismat अच्छी होती हैं

किसी की kismat खराब होती है। किसी का खोना लिखा है तो किसी का मिल जाना। ये साला kismat ही बता सकती है। 

Kismat Shayari

तुमसे दूर रहने को हिम्मत नही मेरी

हरदम तेरे पास रहूंइसी किस्मत कहा है मेरी 

 

Tumse door rahne ko Himmt nahi meri 

Hardam tere pass rahoon,  Esi kismat kaha hai meri …!!

 

काश मेरी किस्मत कोरे कागज जैसी होती 

जिस पर मैं रोज खुद लिखा पाता..!!

 

Kash meri kismat kore kagaz jaisi hoti,

Jis par main roj khud likha pata ..!!

 

किस्मत शायरी इन हिंदी  / Kismat Shayari

 

दरिया तो बह रहा है  मेरे घर के पास से मगर 

किस्मत कही दूर बैठी है लेकर आशयाए साथ मैं..!! 

 

Dariya to vah raha hai Mere ghar ke

pass se magar

Kismat kahi door baithi hai Lekar 

ashayaye sath main..!!

 

इल्म हो गया मुझे मेरी अहमियत खो गई है 

जागी थी जो फिर से वो किस्मत अब सो गई है ।

 

islam ho gaya mujhe Meri ahmiyat kho gayi hai 

Jagi thi jo fir se wo Kismat ab so gayi hai ..!!

 


Read more

Kismat shayari in hindi –Web Story

Dil छू जाने वाली शायरी

40 best khushi shayari 


Kismat Shayari in Hindi

 

मेने किस्मत पर भरोसा 

करना छोड़ दिया था

पर तुझे पाया तो किस्मत 

अच्छी लगने लगी है..!!

 

Mene kismat par bharosa

Karna chhod diya tha

Par tujhe paya to kismat 

Achhi lagne lagi hai …!!

 

रास्ते मुस्किल है पर हम मंजिल जरूर पाएंगे,

ये जो किस्मत अकड़ कर बैठी गई इससे भी जरूर हराएंगे

 

Raste muskil hai par hum manzil jarur payenge,

Ye jo kismar akad kar baithi gyi isse bhi jarur harayenge…!!

 

Kismat par shayari

 

खरीद सकते तो उन्हें अपनी जिंदगी बेचकर खरीद लाते 

पर अफसोस कुछ लोग किस्मत से नही किस्मत से मिलते है।

 

Kharid sakte ho unhe apni zindgi bechakar kharid laate

Par afsos kuch log kismat se nahi kismat se milte ha..!!

 

तकदीर ने क्या खूब खेल खेला है।

मेरे दिल पे तेरा नाम और जिंदगी किसी और के नाम लिखा है ।

 

Takdir ne kya khub khel khela hai

Mere dil pe tera naam aur zindgi kisi aur ke naam likha hai..!!

 

Shayari on kismat

 

आए नया साल बन के उजालाखुले आपकी किस्मत का ताला

हमेशा रहे मेहराबन ऊपर वाला यही दुआ करते है ये आपका 

चाहने वाला

 

Aaye nay saal ban k ujala,

Khule aapki kismat ka tala,

Hamesha rahe mehraban uper wala

Yahi dua karte hai ye aapko chahane wala..!!

 

Destiny shayari / Kismat Shayari

 

जरूरी तो नहीं जीने के लिए सहारा हो 

जरूरी तो नहीं हम जिसके है वो हमारा हो 

कुछ कश्तियों डूब भी जाया करती है

जरूरी तो नहीं हर कश्ती का किनारा हो ।

 

Jaruri to nahi jeene ke liye sahara ho

Jaruri to nahi hum jiske hai wo hamara ho

Kuch kashtiyon doob bhi jaya karti hai

Jaruri to nahi har kashti ka kinara ho..!!

 

Destiny shayari in hindi / Kismat Shayari in hindi

 

बात मुकद्दर पर आ कर रुकी है  वरना 

कोई कसर तो नही छोड़ी थी तुझे चाहने मैं 

 

Baat mukdar par aa kar ruki hai

Warna koi kasar to nahi chhodi thi

Tujhe chahne main..!!

 

क्या खूब मेने किस्मत पाई है खुदा ने कहा हंसकर 

संभाल के रख पगले ये मेरी पसंद है को तेरे हिस्से आई है 

 

Kya khoob mene kismat pai hai khud ne kaha,

Badkar sambhal ke rakh pahle ye,

Meri pasand hai jo tere hisse aai hai..!!

 

Kismat shayari in Hindi 

 

मेरा कसूर नहीं जे मेरी किस्मत का कसूर है 

जिसे भी अपना बनाने की कोशिश करता हूं

वो वही दूर हो जाता है 

 

Mera kasoor nahi jo meri kismat ka kasor hai,

Jise bhi apna banae ki koshish karta hoon,

Wo wahi door ho jata hai..!!

 

तकदीर लिखें वाले एक ईसा करदे मेरे दोस्त 

की तकदीर मैं एक और मुस्कान लिख दे 

ना मिले कभी दर्द उनको तू चाहे तो 

उसकी किस्मत में मेरी जाना लिख दे ।।  

 

Takdir likhe wale ek esa karde mere dost,

Ki takdir main ek aur muskan likh de,

Na mile kabhi dard unko tu chahe to,

Uski kimst me meri jaan likh de..!!

 

किस्मत शायरी इन हिंदी

 

क्यों हथेली की लकीरों से है आगे उंगलियां 

रब ने भी किस्मत से आगे मेहनत रखी 

 

Kyo hatheli ki lakiro se hai aage ungliyan,

Rab ne bhi kismat se aage mehant rakhi..!!

 

दिल टूटा इस कदर की धड़कना भूल गया

किस्मत अच्छी थी जो आपने आकार मेरे दिल को

थाम लिया। । 

 

Dil tuta is kadar ki dhadkana bhul gaya,

Kismat achhi thi jo apne aakar mere 

Dil ko tham liya..!!

 

Kismat shayari status

 

जिंदगी है कट जाएगीकिस्मत है एक दिल 

पलट जायेगी ।।

 

Zindgi hai kat jayegi kismat hai

Ek dil palat jayengi..!!

 

किस्मत वालो को हीमिलती है पनाह मेरे दिल में 

यूं हर शक्श को तो जन्नत का पता। नही मिलता 

 

Kismat walo ko hi milti hai panah mere dil me,

Yoon har shkash ko to jannt ka pta nahi 

milta,

 

बात मुकद्दर पर आकर रूकी है वरना 

कसर तो छोड़ी नही थी तुझे चाहने मैं …!!!

 

Baat mukddar par aakar ruki hai warna,

Kasar to chhodi nahi thi tujhe chahne main..!!

 

किस्मत पर रोना मेने छोड़ दिया अपनी 

उम्मीदों को मेने हौसलों से जोड़ दिया 

 

Kimst par roma mene chhod diya apni,

Ummido ko mene hausalon se jod diya..!!

 

हुनर सड़को पर तमाशा करता है 

और किस्मत महलों में राज करती है 

 

Humare sadko par tamasha karte hai,

Aur kismat mahlon me Raaz karti hai..!!

 

जब भी रब दुनिया की किस्मत में चमत्कार लिखता है 

मेरे नसीब में थोड़ा और इंतजार लिखता है । 

 

Jab bhi rab duniya ki kismat me chamtkar likhta hai,

Mere nasib me thoda aur intezar likhate hai..!!!

 

मेरे चाहत को मेरे हालत 

के तराजू में कभी मत तोलना

मेने वो जख्म भी खाए है 

जो मेरी किस्मत में नहीं थे ।।

 

Mere chahat ko mere halat ke taraju main,

Kabhi mat tolana, mene wo jjakham bhi khaye

Hai, jo meri kismat me nahi the..!!

 

अपने हाथों अपनी किस्मत बिगाड़ हूं

जिंदगी एक खेल है और में अनाड़ी हूं।  

 

Apne hathon apni kismat bigaad hoon,

Zindgi ek khel hai aur me anadi hoon..!!

 

किस्मत भी उनका साथ देती है जिनमे 

कुछ कर गुजरने की हिम्मत होती है ..!!

 

Kismat Shayari
Kismat Shayari

 

Kismat bhi unka sath deti hai jinme,

Kuch kar gujrne ki himmat hoti hai..!

 

कल भी मन अकेला थाए आज भी अकेला है 

जाने मेरी किस्मत ने कैसा खेल खेला है 

 

Kismat Shayari
Kismat Shayari

 

Kal bhi man akela thay aaj bhi akela hai,

Jaane meri kismat ne kaisa khel khela hai..!!

 

मंजूर है मुझे हर शर्त वो तेरी 

में किस्मत में नहीं 

खुद पर यकीन रखता हूं 

 

Manjur hai mujhe shart wo teri,

Main kismat me nahi, khud par yakin 

Rakhta hoon..!!

 

सारा इनाम पाने से ले कर 

हमने किस्मत को माफ कर दिया..!! 

 

Sara inam pane se le kar,

Humne kismat ko saf kar diya..!!

 

भाग्य बदलते चला 

किस्मत पर अपनी रो दिया,

लकीरों मैं था जो उसके 

उसने वो भी को दिया । 

 

Bhagya badalte chala kismat par,

Apni to diya, lakiro main tha jo,

Uske usne wo bhi kho diya..!!

 

जिंदगी और किस्मत से ज्यादा सवाल 

करना फिजूल है 

भला सवाल किसे पसंद होते है 

 

Zindgi aur kismat se jyada sawal,

Karna fijul hai…!

Bhala sawal kise pasant hote hai..!!

 

मेरी किस्मत से खेलने वाले 

मुझ को दुनिया से बेखबर कर दे..!! 

 

Kismat Shayari
Kismat Shayari

 

Meri kismat se khelene wale,

Mujh ko duniya se bekhabar kar de..!!

 

उम्मीद करता हूं । आपको हमारा पोस्ट Kismat Shayari आपको पसंद आया होगा ।  और कुछ शायरी आपकों दिल से पसंद आया होगा । अगर दिल पे लगी हो तो comment box में  अपने प्यारे शब्दो को जरूर रख कर जायेगा । और कुछ सुझाव हो तो आप हमे कमेंट कर सकते है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.