bewafa shayari in Hindi | best 25 दिल तोड़ने वाली शायरी

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में bewafa shayari पढ़ेंगै  आपने भी अपनी life में ishq किया होगा । जब पहल ishq होता है बहुत दिल के करीब होता है ।  और अगर वही करीब Insan हमे छोड़ देता है या फिर dhoka दे तो कितना कुछ feel होता है । उसके लिए bewafai shayari in Hindi लेके आए है । जिसमे ishq me dhoka shayari, jaise shayari in hindi लेके आए है ।

Dil Tod shayari, bewafa shayari, broken heart shayari

Bewafa shayari in hindi

 

बेवफा ओ की महफिल होगी ए दिल के अजीज

आज जरा वक्त पर आना मेहमान बहुत खास हो तुम।।

 

Bewafa o ki mahfil hogi e dil ke ajeej

Aaj Zara waqt par aana mehman bahut khas ho tum…!!

Read More


 टूटी हुई दिल शायरी हिंदी में

Dil ka dhard bhari shayari

दिल चीर देने वाली शायरी

Shikayat shayari status


Bewafa dard shayari

 

शिरकत करते रहते है वो वफा की उम्मीद के साथ,

फिर क्यों महफिल में सामिल होते है गैर के साथ ।।

 

Shirkat karte rahte hai vo wafa ki ummid ke sath

Fir kyu mahfil me samil hote hai gair k sath …!!

 

Bewafa shayari

 

तुम ना रहो उदास किसी बेवफा को याद करके ,

वो खुश है शायद अपनी दुनिया में तेरा सब कुछ उखाड़ के ।।

 

Tum na raho udas kisi bewafa ko yaad karke

Vo khush hai shyad apni duniya me tera sab kuch ukhad kar…!!

 

Dard bewafa shayari

 

फिर से निकलेंगे तलाश ए जिंदगी ,

दुआ देना इस बार कोई वफा मिल जाए ।।

 

Fir se nikalenge talash e zindgi

Dua dena is bar koi wafa mil jaye ..!!

 

Bewafa sad shayari in hindi

 

वक्त ने वक्त की कीमत बताई थी

गैरो ने अपनी महफिल में उसी नुमाइश

बनाई थी ।।

 

Waqt ne waqt ki kimat batai thi

Gairo ne apni mehfil me usi numaish banai thi ..!!

 

Dard bewafa shayari in Hindi

 

अब के अब तस्लीम कर ले तू नही तो मैं सही

कौन मानेगा की हम में से कोई बेवफा नहीं ।।

 

Ab ke ab taslim kar le tu nahi to mai sahi

Kaun manega ki hum me se koi bewafa nahi …!!

 

Bewafa sad shayari

 

मिल ही जायेगा कोई हमे भी चाहने वाला ,

यह पूरा शहर तो बेवफा हो नही सकता ।।

 

M hi jayega koi hume bhi chahne wala,

Yah pura shahar to bewafa ho nahi sakta …!

 

Shayari bewafa par

 

क्या बेवफ़ा वक्त था या तुम थे या फिर मुक्कदार था मेरा,

बात इतनी ही है की अंजाम तो जुदाई का निकला मेरा ।।

 

Kya bewafa waqt tha ya tum the ya fir mukddar tha mera,

Baat itni hi hai ki anjam to judai ka nikla Mera..!!

 

Dhoka shayari in hindi

 

लाख दिए कला के देख लिए , मेने अपनी गली में

पर रोशनी तो तब होगी जब वो साफ दिल से आएगा ।।

 

Lakh diye kal me dekh liye mene apni gali main,

Par roshni to tab hogi jab wo saf dil se aayega..!!

 

Dil Tod shayari in Hindi

 

नही चाहिए कुछ भी तेरे इश्क की दुकान से

हर चीज में मिलावट है बेवफा तेरी ईमान से ।।

 

Nahi cahiye kuch bhi tera ishq ki dukan se

Har chiz me milawat hai bewafa Teri dukan me..!!

 

Jhootha pyar shayari

 

अपने तजुर्बे की आजमाइश की जिद लेके बैठे थे,

वरना हमको था मालूम तू वफा के लायक नही है ।।

 

Apne tajurbe ki aajmaish ki zid leke baithe the ,

Warna humko tha maloom tu wada ke layak nahi hai ..!!

 

Dil Tod shayari/ ishq me dhoka shayari

 

मेरे फन को तराशा है सभी के नेक इरादो ने

किसी की बेवफाई ने किसी के झूठे वादों ने ।।

 

Mere fan ko tarash hai tabhi ke nek iradon ne,

Kisi ki bewafai ne kisi ke jhuthe vadon ne ..

 

Dil Tod diya shayari

 

ये जरूरी नहीं है की हर बात पर तुम मेरा कहा मानी

दहलीज पर रख दी है चाहत और अब आगे तुम जानो ।।

Ye jaruri nahi hai ki har baat par tum mera kaha mano

Dahliz par rakh di gai chhaat aur ab aage tum jano…!!

 

Bewafai par shayari in hindi

 

बरसे बगैर ही जो घटा आकर निकल गई

एक बेवफा का अहद ए वादा याद आ गया ।।

 

Barse bagair hi jo ghata aakar nikal gayi

Ek bewafa ka ahad e wada yaad aa gaya ..!!

 

जरा न देखूं मैं और तुम बेचैन हो जाओ

कुछ इस इश्क की तलाश में हूं मैं ।।

 

Zara na dekhu Mai aur tum bechain ho jao,

Kuch is ishq ki talash main hoon main…!!

 

वो बेवफा हर बात में मुझे अजमाइश देता है,

लगता है खयालों में उकसे उदारण बना दिया है उसके।।

 

Wo bewafa har baat maun mujhe aajmaish deta hai,

Lagta hai khaylo me uske udaran bana diya vau mujhe..!!

 

Best bewafa quotes

 

अकसर उनके अल्फाज में जीकर

” कही तुम छोड़ के तो नही जाओगे”

खास कुछ अल्फाज हमने भी बोल दीए होते।।

 

Aksar unke alfaz main jikar,

Kahi tum chhod ke. To nahi jaoge,

Khas tum alfaz humne bhi bol diye hote…!!

 

क्या बताऊं मेरा हाल कैसा है

एक दिन गुजरता है एक साल जैसा है

तड़पता हूं इस कदर बेवफाई मैं उसकी

ये तन बनता जा रहा कंकाल जैसा है ।।

 

Kya batau mera hal kaisa hai ,

Ek din gujratia hai ek sal jaisa hua

Tadpata hoon is kadar bewafai main uski,

Ye tan banta ja raha kankal jaisa hai ..!!

 

बेवफाई उसकी मिटा के आया है

खत उसके पानी में बहा के आया है

कोई पढ़ ना ले उस बेवफा की यादों को

इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया है ।।

 

Bewafai uski mita ke aaya hai

Khat uske pani main bah ake ay agai

Koi padh na le us bewafa ki yadon ko

Esliye pani main bhi aag laga kar aaya hai …!!

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.