start exploring

Morning suvichar in hindi

आप एक बुरे नज़रिये के साथअच्छा दिन नहीं बिता सकते औरएक अच्छे नज़रिये के साथबुरा दिन नहीं बिता सकते.“सुप्रभात”

कौन कहता है कि ईश्वर नजर नहीं आता.सिर्फ वही तो नजर आता है,जब कोई नजर नहीं आता.“सुप्रभात”

संभव की सीमा जानने का,केवल एक ही तरीका हैं,असंभव से भी आगे निकल जाना.“सुप्रभात”

मुसीबत सब पर आती है,कोई बिखर जाता है,और कोई निखर जाता है.“सुप्रभात”

जन्नत की महलों में हो महल आपका,ख्वाबो की वादी में हो शहर आपका,सितारो के आंगन में हो घर आपका,दुआ है सबसे खूबसूरत हो हर दिन आपका.

तन्हा बैठकर न देख हाथों की लकीरे अपनी,उठ बाँध कमर और लिख दे खुद तकदीर अपनी.“सुप्रभात”

एक महान फिलोसोफर ने क्या खूब कहा है,कि “ज़िन्दगी तुही बता कैसे तुझे प्यार करूँ?तेरी हर एक ‘सुबह’ मुझे अपनों से दुरी का एहसास देती है.

Thank you for watching and reading our story'... 

अगली स्टोरी के लिए यह click kare

Click Here